500 में गैस सिलेंडर, Free बिजली की भी सौगात; राजस्थान सरकार का बड़ा ऐलान

rajasthan budget lpg cylinder in 500 rupees 100 units electricity free: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को बजट पेश किया. इसमें उन्होंने कई बड़ी घोषणाएं कीं. मुख्यमंत्री ने राज्य के किसानों को 2000 यूनिट मुफ्त बिजली देने की घोषणा की. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने लोगों को राहत देने के लिए 19 हजार करोड़ रुपये के महंगाई राहत पैकेज की भी घोषणा की. इस पैकेज में गरीब परिवारों को हर महीने 500 रुपए में मुफ्त भोजन के पैकेट, रसोई गैस सिलेंडर दिए जाएंगे। यही नहीं, इस पैकेज के तहत घरेलू बिजली उपभोक्ताओं को 100 यूनिट तक मुफ्त बिजली भी दी जाएगी।

राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने शुक्रवार को अगले वित्त वर्ष का बजट पेश किया. विधानसभा चुनाव से पहले मौजूदा कार्यकाल का आखिरी बजट पेश करते हुए गहलोत ने कई लोकलुभावन वादों की घोषणा की। उन्होंने उज्ज्वला योजना के तहत सभी परिवारों को 500 रुपये का सिलेंडर और 100 यूनिट मुफ्त बिजली देने का ऐलान किया है. मुख्यमंत्री ने गरीब परिवारों को हर महीने मुफ्त भोजन पैकेट उपलब्ध कराने की योजना की भी घोषणा की।

Rajasthan Budget

500 रुपए में गैस सिलेंडर दिए जाएंगे

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत आने वाले एक करोड़ परिवारों को प्रति माह मुख्यमंत्री अन्नपूर्णा भोजन पैकेट देने की घोषणा की। इसमें एक किलो दाल, शक्कर, नमक, एक लीटर तेल, गरम मसाला दिया जाएगा। इस पर करीब 3 हजार करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे। बीपीएल और उज्ज्वला योजना के तहत आने वाले परिवार अधिक कीमत के कारण एलपीजी सिलेंडर नहीं खरीद पा रहे हैं। इन 76 लाख परिवारों को 500 रुपए में गैस सिलेंडर दिए जाएंगे। इस पर 1500 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।

EPF Pension Hike: खुशखबरी ! पेंशन में होगी 8,500 की बढ़ोतरी

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि पिछले बजट में 50 यूनिट मुफ्त बिजली प्रति माह देने की घोषणा की गई थी. मुख्यमंत्री नि:शुल्क बिजली योजना की शुरुआत अगले साल से प्रति माह 100 यूनिट बिजली दी जाएगी। एक करोड़ 19 लाख में से 1 करोड़ 4 लाख परिवारों को मुफ्त बिजली मिलेगी। अन्य 15 लाख घरेलू उपभोक्ताओं को भी स्लैब के अनुसार दी जाने वाली छूट मिलती रहेगी। इससे करीब सात हजार करोड़ रुपये का बोझ पड़ेगा।

घरेलू उपभोक्ताओं को 100 यूनिट बिजली फ्री

अपने बजट भाषण को पढ़ते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि घरेलू उपभोक्ताओं को प्रति माह 100 यूनिट बिजली मुफ्त दी जाएगी। वर्तमान में यह सीमा 50 यूनिट थी। इससे प्रदेश के 1.19 करोड़ में से 1.04 करोड़ से अधिक परिवारों को बड़ी मदद मिलेगी। इन परिवारों को मुफ्त में घरेलू बिजली मिल सकेगी। इस पहल से राजकोष पर 7,000 करोड़ रुपये खर्च होंगे। उन्होंने यह भी कहा कि सरकार का यह भी लक्ष्य है कि चरणबद्ध तरीके से 300 यूनिट प्रति माह की खपत करने वाले घरेलू उपभोक्ताओं को मुफ्त बिजली प्रदान की जाए।

शिक्षकों के लिए अच्छी खबर – 62 से 65 वर्ष हो सकती है Retirement की उम्र!

डीजल-पेट्रोल पर लगने वाला वैट नहीं बढ़ेगा

मुख्यमंत्री ने यह भी कहा कि राज्य में डीजल-पेट्रोल पर लगने वाले वैट को कम कर करीब 7500 करोड़ रुपये की छूट आगे भी जारी रहेगी. इससे किसानों को काफी लाभ होगा। साथ ही इससे महंगाई को कम करने में मदद मिलेगी।

19 हजार करोड़ का पैकेज

मुख्यमंत्री ने कहा कि अगले साल सस्ते एलपीजी सिलेंडर, मुफ्त घरेलू बिजली के लिए 19,000 करोड़ रुपये से अधिक का महंगाई राहत पैकेज दिया जाएगा. इस पैकेज से महंगाई से परेशान लोगों की जिंदगी आसान होगी.

PM Kisan Yojana 13th Kist Realise Today : अचानक हुआ जारी पैसा (2000) ऐसे चेक करे

2000 यूनिट तक फ्री बिजली

मुख्यमंत्री ने किसानों के लिए बड़ी घोषणा करते हुए कहा कि प्रदेश में 2000 यूनिट तक बिजली की खपत करने वाले किसानों को वित्तीय वर्ष 2023-24 से मुफ्त बिजली मिलेगी. इससे 11 लाख से अधिक किसानों को लाभ होने वाला है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने लघु सीमांत और कमजोर वर्ग के किसानों की जमीन को नीलाम होने से बचाने के लिए राजस्थान किसान ऋण राहत अधिनियम को लागू करने की भी घोषणा की.

Kisan Beneficiary Status 2023: लाखों किसानों के खातों में आयी 2,000 रुपए की किस्त

लुम्पी द्वारा मारी गई गायों पर 40,000 का मुआवजा

इसके साथ ही मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने किसानों के लिए एक और बड़ी घोषणा की। उन्होंने कहा कि गांठदार वायरस के प्रकोप से मरने वाली गायों को 40 हजार का मुआवजा दिया जाएगा। उल्लेखनीय है कि गहलोत के मौजूदा कार्यकाल का यह पांचवां और आखिरी बजट है। विपक्ष ने इसे चुनावी बजट बताया है. बजट पढ़ते समय राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने सबसे पहले पुराने बजट की कुछ पंक्तियां पढ़ीं. इसको लेकर विपक्षी बीजेपी ने हंगामा किया. इसके कारण सदन की कार्यवाही बाधित हुई।

NIT MEGHALAYA HOMEPAGECLICK HERE

Leave a comment