Omicron BF.7 से चाइना में हाहाकार, भारत में भी दे दी है अब दस्तक़, जानें लक्षण

Omicron: पूरा विश्व 2 साल तक कोरोना के संक्रमण से पीड़ित रहा. अभी कोरोना की जाने की खबरें आई थी कि उसके ओमिक्रोन का संक्रमण फैलना शुरू हो गया है. हाल ही में चीन से BA.5.2 और BF.7 नाम के Omicron संक्रमण के फैलने की खबरें आ रही हैं. अब यही संक्रमण भारत तक भी पहुंच गया है. विशेषज्ञों के अनुसार भारत इस संक्रमण के पहले चरण में है. जबकि चीन इस संक्रमण में तीसरे चरण पर पहुंच गया है. क्या है Omicron के लक्षण, और इससे कैसे बचा जाए गा, इन सब की जानकारी हम आपको इस लेख में दे रहे हैं. आप ओमिक्रोन के नए वेरेंट की पूरी जानकारी प्राप्त करने के लिए इस लेख को जरूर पढ़ें.

Omicron
Omicron

Omicron BA.5.2 और BF.7 

कोरोना का ही नया वर्जन ओमी क्रोन है. यह चाइना में बुरी तरह से फैल चुका है. अब यह भारत की ओर कदम कर रहा है. भारतीयों को इससे बचने के लिए सख्त दिशा निर्देशों का पालन करना चाहिए. एक्सपर्ट के मुताबिक चीन में इसकी 3 लहरें आएंगी. और इसमें चीन को भारी नुकसान होगा. भारत अभी इस  वायरस के पहले दौर से गुजर रहा है. यदि इस समय भारत में कंट्रोल कर लिया जाता है तो उसको फैलने से बचा लिया जाएगा.  करोना ही की तरह इस संक्रमण ने भी चाइना में मरीजों की संख्या बढ़ा दी है. मरने वालों की संख्या भी हद से ज्यादा बढ़ गई है.  यह भी एक वायरस का संक्रमण रोग है जो एक व्यक्ति से दूसरे व्यक्ति में वायु के जरिए फैल रहा है. 

FFE Scholarship 2023: प्रोफ़ेशनल कोर्स कर रहे छात्रों को छात्रवृत्ति पाने का गोल्डन चांस, Last Date – 31 दिसंबर

Old Pension Scheme Latest News 2023: पुरानी पेंशन लागू करने जा रही है केंद्र सरकार?

ओमिक्रोन के लक्षण 

ऐसा पाया जा रहा है कि जिन भी व्यक्तियों को यह वायरस हो रहा है उन्हें गले में दर्द महसूस हो रहा है. गले में संक्रमण के साथ शरीर में दर्द भी पाया जा रहा है. यदि आपके गले में संक्रमण में हो रहा है तो आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क करके इसका इलाज कर सकते हैं. इस वायरस के अंदर संक्रमित लोगों को गले में संक्रमण और शरीर में दर्द का सामना करना पड़ रहा है. संक्रमित व्यक्तियों को कभी कभी बुखार भी आ जाता है. यह बुखार हल्का और तेज होता रहता है. यदि आप भी इस तरह की किसी लक्षण से ग्रसित हैं. या किसी ऐसे व्यक्ति को जानते हैं जिसमें इस प्रकार के लक्षण पाए जा रहे हैं. तो आप उनको सावधानी बरतने की सलाह ले सकते हैं. और डॉक्टर से तुरंत संपर्क करने के बारे में मशवरा कर सकते हैं.

Omicron BA.5.2 और BF.7 क्या है 

BA.5 वेरेंट के सब वेरेंट के रूप में BA.5.2 वायरस का मामला सामने आ रहा है. यह BA.5  की तरह खतरनाक है. इसका पहला मामला जुलाई महीने के अंतर्गत चीन में पाया गया था. इसके साथ ही BA.7 भी इसी का एक एक्टिव वायरस है. यह दोनों मामले चीन में बहुत तेजी से फैल रहे हैं. इनके अंतर्गत संक्रमित व्यक्ति अब संख्या में ज्यादा हो रहे हैं. भारत में भी इसके मामले देखने को मिल रहे हैं.

SBI Home Loan Online Apply: कॉल मैसेज से घर बैठे लें होम लोन, जानें कितनी होगी EMI?

Haryana Solar Water Pump Yojana: HSWP Yojana में मिलेगा सब्सिडी का लाभ

ओमिक्रोन के नए वेरेंट से खतरा 

आपको बता दें कि यह नया वेरेंट  पहले वाले से ज्यादा अपडेटेड है, यानी इससे संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या ज्यादा हो जाएगी. इसके साथ ही यह वायरस पहले से ज्यादा मजबूती के साथ आया है.  विशेषज्ञों के अनुसार BA.7  वायरस से संक्रमित व्यक्ति एक बार में 10 से 18 व्यक्तियों को संक्रमित कर सकता है. यानी यह वायरस 18 गुना ज्यादा लोगों को नुकसान पहुंचाने में सक्षम है. इसके लिए अभी तक वैज्ञानिकों ने कोई  वैक्सीन नहीं बनाई है. हालांकि जिन व्यक्तियों ने कोरोना की वैक्सीन ले रखी है उनको भी इस प्रकार के वायरस ने संक्रमित कर दिया है. इसलिए आप वैक्सीन के बल पर इस वायरस बचने की गलतफहमी में नहीं रह सकते.

Omicron से बचाव के तरीके

क्योंकि इस वायरस को अभी तक वैज्ञानिक सही से पहचान नहीं पा रहे हैं. इससे संक्रमित व्यक्ति के अंदर भी पूरी तरह से लक्षण देखने को नहीं मिल पा रहे हैं. इसलिए हमें संक्रमित व्यक्ति यह संक्रमण की पहचान नहीं हो पाती है.  फिर भी आप निम्नलिखित विधियों को अपनाकर इस संक्रमण से बचने के लिए उपाय कर सकते हैं 

  •  सार्वजनिक स्थानों पर मास्क का प्रयोग करें
  •  वार्तालाप करते समय संबंधित दूरी का ध्यान रखें.
  •  इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आप आयुर्वेदिक तरीका और प्राणायाम जैसे तरीकों का उपयोग कर सकते हैं.
  •  बुखार आने पर आप अपने नजदीकी डॉक्टर से संपर्क कर सकते हैं और इसको तुरंत दवा के माध्यम से सही करें. आप पेरासिटामोल का प्रयोग करके बुखार आने पर इस को खत्म कर सकते हैं.

 इस प्रकार आप विभिन्न उपाय करके स्वयं को इस वायरस से सुरक्षित रख सकते हैं. 

NIT MEGHALAYA HomepageVisit Here

Leave a comment