NPS में ही मिलेंगे OPS वाले फायदे! सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ी खुशखबरी, पढ़ें ये अपडेट

OPS NPS New Update: वित्त मंत्री द्वारा सरकारी कर्मचारियों के लिए की गई नई घोषणा बेहद राहत देने वाली है। अब पुरानी पेंशन योजना (old pension scheme) का लाभ नई पेंशन योजना (new pension scheme) का ही मिल सकेगा। सरकार ने Purani Pension Yojana का विकल्प तैयार करने के लिए एक समिति बनाई है। समिति अब Nayi Pension Yojana को भी Old Pension Yojna की तरह लोकप्रिय बनाने का काम करेगी।

इसमें गारंटीड रिटर्न तो मिलेगा ही, अतिरिक्त कमाई पर भी चर्चा की जा रही है। इसके साथ ही सरकार के योगदान को बढ़ाकर 14 फीसदी करने की योजना है. National Pension System या New Pension Scheme को लेकर नई व्यवस्था की जाएगी। व्यवस्था ऐसी होगी कि केंद्र और राज्य दोनों सरकारें इसे अपना सकती हैं।

OPS NPS New Update

Old Pension Scheme पर क्या हो रही है चर्चा?

दरअसल, कई दिनों से सरकारी कर्मचारी Old Pension Scheme को लेकर देशभर में आंदोलन कर रहे हैं. कई राज्यों ने Purani Pension Yojana को भी बहाल कर दिया है। ऐसे में अब केंद्र सरकार भी इसकी जांच कर रही है. लेकिन, केंद्र के स्तर पर Old Pension Scheme लागू नहीं हो रही है। लेकिन, वित्त मंत्रालय New Pension Scheme में गारंटीशुदा रिटर्न की समीक्षा कर रहा है। अब आलम यह है कि Nayi Pension Scheme में ही Purani Pension Scheme का लाभ जोड़ने की बात हो रही है.

New Pension में क्या लाभ मिल सकते हैं?

new pension scheme में सरकार अब न्यूनतम गारंटीशुदा पेंशन की योजना लाने पर विचार कर रही है। इसमें पेंशनरों की अतिरिक्त कमाई पर भी फोकस रहेगा. इसके साथ ही सरकार के योगदान में 14 फीसदी से ज्यादा की बढ़ोतरी की भी योजना है. हालांकि, सरकारी खजाने पर बिना बोझ डाले योगदान बढ़ाने का तरीका खोजा जा रहा है. पेंशन बढ़ाने के लिए एन्युटी में ज्यादा निवेश करना संभव हो सकता है। वर्तमान में कुल फंड का 40% वार्षिकी में निवेश किया जाता है, जिसमें से लगभग 35% अंतिम वेतन पेंशन के रूप में प्राप्त होता है। हालांकि, बाजार से जुड़े होने की गारंटी नहीं है।

NPS में क्या है मौजूदा व्यवस्था?

मूल वेतन का 10% कर्मचारी द्वारा, 14% सरकार द्वारा योगदान दिया जाता है। कुल मिलाकर बेसिक सैलरी का 24 फीसदी pension fund में जमा होता है. फंड मैनेजर इक्विटी और डेट फंडों में पैसा लगाते हैं। हालांकि, शेयरों और कर्ज में निवेश का प्रतिशत कर्मचारी तय करता है। रिटायरमेंट के समय 60 फीसदी रकम निकाली जा सकती है। जबकि एन्यूटी प्लान में 40 फीसदी राशि निवेश की जाती है। रिटायरमेंट के समय निकाला गया पैसा पूरी तरह से tax free होता है।

TATA Scholarship 2023-24: 6वीं से Graduation के छात्र करें आवेदन – मिलेगी 50,000 की छात्रवृति

DA Hike and LPG Cylinder News: 4% DA बढ़ोतरी के साथ बढ़ाई सिलिंडर पर मिलने वाली सब्सिडी

Install Free Solar Panel 2023: फ्री सोलर पैनल लगवाना है, यहां करें कॉल

old pension scheem में क्या है व्यवस्था?

old pension scheme में सरकारी खजाने से पैसे का भुगतान किया जाता है। इसमें पिछले महीने की सैलरी के आधे के बराबर पेंशन दी जाती है। कर्मचारी की मृत्यु के बाद पत्नी/पति को भी पेंशन का लाभ मिलता है। हर 6 माह में DA मिलने का भी प्रावधान है। मतलब जब भी महंगाई भत्ता बढ़ेगा तो उसका लाभ Pension में भी दिया जाएगा. सरकारी कर्मचारी को अपनी तरफ से कोई योगदान नहीं देना होता है। यहां तक कि जब सरकार new Pay Commission लागू करती है तो Pension में इजाफा करती है।

EPF Pension Hike: खुशखबरी ! पेंशन में होगी 8,500 की बढ़ोतरी

शिक्षकों के लिए अच्छी खबर – 62 से 65 वर्ष हो सकती है Retirement की उम्र!

अधिकारियों को निर्देश, बकाया वेतन-प्रोत्साहन राशि का जल्द होगा भुगतान, 80000 रुपए तक खाते में आएंगे

RBI ने Old Pension को लेकर क्या चेतावनी दी?

पुरानी पेंशन को लेकर कई तर्क हैं। RBI इसके विरोध में है। कुछ समय पहले RBI ने भी इसे लेकर अलर्ट किया था कि इससे सरकारी खजाने पर बोझ बढ़ रहा है. RBI ने चेताया कि इससे विकास कार्यों के खर्च में कमी आती है, जो अर्थव्यवस्था के लिए भी हानिकारक है। पुरानी पेंशन कर्ज में डूबे राज्यों के लिए भी एक समस्या है। इससे कर्ज में डूबे राज्यों का आर्थिक खर्च और बढ़ जाता है।

NIT Meghalaya

Leave a comment