New Joshimath Peepalkoti: पीपलकोटी में नया जोशीमठ, जमीन का हुआ चयन

New Joshimath City to built in Pipalkoti: जोशीमठ से विस्थापित किये गए लोगों के लिए समुद्रतल से 1260 मीटर की ऊंचाई पर स्थित पीपलकोटी (Pipalkoti) जगह पर स्थायी विस्थापन हेतु भूमि को चिह्नित किया गया है। पीपलकोटी जगह जोशीमठ शहर से तकरीबन 36 किमी की दूरी पर स्थित है और इस स्थान पर दो हेक्टेयर क्षेत्रफल के अंतर्गत 125 से 130 परिवारों को बसाया जाने की योजना है।

चमोली जिला प्रशासन द्वारा जीएसआई की तरफ से भूमि सर्वेक्षण की जांच पूरी होने के बाद पीपलकोटी में लोगों के स्थायी विस्थापन के लिए दो हेक्टयर भूमि को हरी झंडी दी गयी है। इसके बाद अब CBRI की ओर से भूमि का विकास और भवनों के Layout तैयार किये जाने का कार्य शुरू किया जाएगा। राज्य सचिवालय स्थित मीडिया सेंटर में पत्रकारों को बताते हुए सचिव आपदा प्रबंधन डॉ. रंजीत कुमार सिन्हा ने जानकारी दी कि पीपलकोटी में लोगो के स्थायी विस्थापन के लिए भूमि को चिह्नित करने का कार्य पूरा कर गया है।

New Joshimath Peepalkoti

पीपलकोटी में बसेगा मिनी जोशीमठ

Mini Joshimath will settle in Pipalkoti: जानकारी के अनुसार पीपलकोटी में विस्थापित लोगों को पक्के मकान बनाकर दिए जाएंगे। इसके अलावा जो लोग मुआवजा लेकर अपने लिए स्वयं मकान बनाना चाहते हैं उन्हें इसके लिए भी विकल्प दिया जाएगा। उन्होंने जानकारी दी कि जीएसआई ने अपनी रिपोर्ट में पीपलकोटी की भूमि को स्थायी विस्थापन के लिए उपयुक्त और सही पाया है।

डॉ. सिन्हा ने जानकारी दी कि जोशीमठ के अधिकांश लोग स्थायी विस्थापन के पक्ष में हैं और अधिकांश लोगों को पीपलकोटी की भूमि रहने योग्य पसंद आई है। इसके अलावा तीन अन्य जगहों पर भी लोगों के स्थायी विस्थापन के लिए भूमि का चयन किया गया है। इन जगहों में कोटी फार्म, HRDI की जमीन और ढाक गांव की जमीन शामिल है।

Joshimath Sinking Latest Update: 125 परिवारों को बसाया जाएगा

Latest News From Uttarakhand: जानकारी के अनुसार, जोशीमठ के लोगों पर जो खतरा मंडरा रहा है उसके समाधान के लिए सरकार लगातार काम कर रही है। सरकार ने जोशीमठ के लोगों के स्थायी विस्थापन के लिए भूमि का चुनाव कर लिया है। जानकारी के लिए बता दें कि पीपलकोटी में स्थायी विस्थापन के लिए दो हेक्टयर जमीन को मंजूरी मिल गयी है और साथ ही जल्द ही CBRI के द्वारा भूमि के विकास और घरों के लेआउट बनाने का कार्य किया जाएगा।

घर छोड़ना दर्दनाक, यह क्या हो रहा है जोशीमठ में?

Philips Scholarship 2023: पाएं 50,000 की स्कालरशिप, आवेदन शुरू [Direct Link]

Post Office Group C Recruitment 2023: डाक विभाग में विभिन्न पदों पर भर्ती- Application Form Download

EPF Pension Hike: खुशखबरी ! पेंशन में होगी 8,500 की बढ़ोतरी

BOB E Mudra Loan Online Apply: बैंक ऑफ बड़ौदा दे रहा 5 मिनट में 50,000 रुपए, ऐसे करें अप्लाई

स्थायी विस्थापन (permanent rehabilitation) के लिए तीन अन्य जगहों पर भी भूमि का चयन किया गया है, जिनमें कोटी फार्म, HRDI की भूमि और ढाक गांव की भूमि शामिल है। जानकारी के अनुसार इनमें से कोटी फार्म में उद्यान विभाग की जमीन पर पहले चरण के तहत तीन Prefabricated Demonstration Building का निर्माण किया जायेगा।

NIT Meghalaya

Leave a comment