Meghalaya Election 2023 Dates: मेघालय में 27 को Election, 2 मार्च को Result, जानें पूरा हाल

Meghalaya Election 2023 Dates: चुनाव आयोग ( Election Commission) ने जनवरी 2023 को मेघालय में होने वाले विधानसभा चुनाव (Meghalaya Election 2023) की तारीख का ऐलान कर दिया है। चुनाव आयोग ने बताया कि राज्य में एक ही चरण में चुनाव कराए जाएंगे। Chief Election Commissioner राजीव कुमार ने बताया कि मेघालय और नगालैंड में 27 फरवरी को एक ही दिन वोटिंग होगी. इसके नतीजे यानी वोटों की गिनती 2 मार्च 2023 को होगी. मेघालय में Conrad Sangma के नेतृत्व वाली सरकार है.

Meghalaya Election 2023 Dates

नामांकन की तिथि (Meghalaya Election 2023 enrollment date)

Meghalaya Assembly Elections 2023: मेघालय में अधिसूचना की तिथि 31 जनवरी 2023 है। उम्मीदवार 7 फरवरी, 2023 तक नामांकन कर सकते हैं। चुनाव आयोग अगले दिन यानी 8 फरवरी 2023 को इसकी जांच करेगा।

नाम वापसी की अंतिम तिथि (last date for withdrawal)

Meghalaya elections में उम्मीदवार 10 फरवरी, 2023 तक चुनाव से अपना नाम वापस ले सकते हैं। यही तारीख नगालैंड में चुनाव लड़ने वालों के लिए भी है। दोनों राज्यों के नतीजे दो मार्च को आएंगे. मेघालय में कुल 60 विधानसभा सीटें (Meghalaya assembly seats) हैं.

आने वाले चुनाव में कोई गठबंधन नहीं है

मेघालय वर्तमान में यूनाइटेड United Democratic Party (UDP), People’s Democratic Front (PDF), Bharatiya Janata Party (BJP) और National People’s Party (NPP) के नेतृत्व वाली Hill State People’s Democratic Party की गठबंधन सरकार द्वारा शासित है और कॉनराड संगमाके नेतृत्व में है। हालांकि आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए अब तक किसी भी राजनीतिक दल ने गठबंधन कर चुनाव लड़ने की घोषणा नहीं की है.

15 हजार में शानदार Primebook लैपटॉप: Shark Tank India से मिला 75 लाख का फंड

EPF Pension Hike: खुशखबरी ! पेंशन में होगी 8,500 की बढ़ोतरी

Top Schools In India List 2023-24: देहरादून के 2 स्कूल देश में नंबर-1, Top-10 में 8 स्कूलों के नाम शामिल

IBPS Calendar 2023: ऑफिसियल कैलेंडर जारी, Download IBPS Exam Schedule

Flipkart Axis Bank Credit Card Apply Online: इस कार्ड में हैं खास फीचर्स – फायदा चार्जेज कैशबैक रिवार्ड्स

साल 2018 का रिजल्ट

मेघालय के पिछले चुनाव में किसी भी दल को बहुमत नहीं मिला था। कुल 60 सीटों में से, कांग्रेस 21 सीटें जीतकर सबसे बड़ी पार्टी बन गई, लेकिन वह बहुमत से पीछे रह गई। कोनराड संगमा की अगुवाई वाली NPP 19 सीटों के साथ दूसरे नंबर पर रही थी। राज्य की UDP के छह सदस्य चुनाव जीतकर विधानसभा पहुंचे थे. इसी तरह, राज्य की PDF ने चार सीटें जीती थीं और भाजपा और HSPDP ने दो-दो सीटें जीती थीं।

चुनाव परिणाम के बाद संगमा ने बीजेपी, यूडीपी, पीडीएफ, एचपीपीडीपी और एक निर्दलीय के साथ गठबंधन सरकार बनाई और राज्य के मुख्यमंत्री बने। 2018 के विधानसभा चुनाव में एनपीपी और भाजपा के बीच गठबंधन हुआ था। इस चुनाव में NPP और BJP ने अलग-अलग चुनाव लड़ने का ऐलान किया है.

क्या होगा पहली बार?

Chief Election Commissioner Rajeev Kumar ने कहा कि नागालैंड, मेघालय और त्रिपुरा में संयुक्त मतदाता 62.8 लाख से अधिक हैं, जिनमें 31.47 लाख महिला मतदाता और 31,700 विकलांग मतदाता शामिल हैं। पहली बार 3 राज्यों के चुनाव में 1.76 लाख से ज्यादा मतदाता होंगे.

NIT MEGHALAYA

Leave a comment