Labour Card vs E Shram card: लेबर कार्ड और श्रम कार्ड में क्या अंतर है? क्या श्रम कार्ड और लेबर कार्ड दोनों एक ही हैं? कैसे करे आवेदन

Labour Card vs E Shram card: केंद्र व राज्य सरकार द्वारा असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले श्रमिकों के हित के लिए विभिन्न योजनाएं चलाई जा रही हैं. इनमें सबसे प्रमुख और चर्चित योजनाओं में से एक है E Shram Card और इसी तरह एक और इसी के समानांतर योजना चलाई जा रही है जिसे Labour Card Scheme के नाम से जाना जाता है. देखने में यह दोनों योजनाएं एक जैसी लगती हैं. इसी कारण अधिकतर लोगों को यह भ्रम हो जाता है कि क्या श्रम कार्ड और लेबर कार्ड दोनों एक ही हैं? लेकिन ऐसा नहीं है. योजनाएं श्रमिकों को लाभ पहुंचाने के लिए बनाई गई हैं लेकिन इन योजना के उद्देश्य भी कुछ हद तक अलग अलग है. आज क्या करेंगे कि E shram card and Labour Card Difference in hindi क्या है,labour card and e shram card are same or not तथा इनके क्या लाभ है, इसके साथ ही हम आपको बताएंगे कि इस प्रकार आप दोनों योजनाओं का लाभ कैसे उठा सकते हैं. जानकारी हासिल करने के लिए आप इस आर्टिकल को अंत तक पढ़े.

Labour Card vs E Shram card
Labour Card vs E Shram card

E Shram Card और Labour Card क्या है

जिस प्रकार केंद्रीय स्तर पर श्रम एवं रोजगार मंत्रालय यह सुनिश्चित करता है कि भारत में मजदूरों को तथा श्रमिकों को उनके पर्याप्त अधिकार और सुविधाएं प्रदान की जाए. तथा श्रम एवं रोजगार मंत्रालय उनके कल्याण के लिए कार्य करता है इसी प्रकार प्रत्येक राज्य द्वारा भी एक श्रम विभाग स्थापित किया जाता है, जिसका कार्य इसी उद्देश्य को राज्य स्तर पर क्रियान्वित करना होता है. वास्तव में लेबर कार्ड (Labour Card) का संचालन राज्य सरकारें अपने स्तर पर करती हैं. जबकि E श्रम कार्ड का क्रियान्वयन राष्ट्रीय स्तर पर केंद्र सरकार द्वारा किया जा रहा है.हमें उपरोक्त दोनों को अलग-अलग परिभाषित कर देना चाहिए जिससे आपके लिए इनको समझना आसान हो जाए.

Labour Card क्या है?

राज्य स्तर पर श्रम विभाग द्वारा अपने राज्य में कार्य करने वाले श्रमिकों के लिए लेबर कार्ड के ऑफलाइन तथा ऑनलाइन आवेदन स्वीकार किए जाते हैं. राज्य विशेष में रहने वाले श्रमिक इस कार्ड को बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं. राज्य स्तर पर श्रमिकों के कल्याण के लिए चलाई जाने वाली योजनाओं का लाभ सर्वप्रथम ऐसे ही श्रमिकों को प्रदान किया जाएगा जिनका पंजीकरण राज्य सरकार द्वारा लेबर कार्ड के माध्यम से किया गया है. प्रत्येक राज्य के लेबर कार्ड के लिए कुछ विशेष नियम व शर्तें होती हैं. यानी राज्य द्वारा यह परिभाषित किया जाता है कि उसके राज्य में किस-किस कार्य को करने वाले व्यक्ति को श्रमिक या मजदूर समझा जाएगा. इसके बाद ही आप आवेदन कर सकते हैं और राज्य स्तर की श्रमिकों के कल्याण के लिए चलाई जाने वाली योजनाओं में भाग ले सकते हैं.

E Shram Card क्या है?

श्रम एवं रोजगार मंत्रालय भारत सरकार द्वारा पूरे भारत के स्तर पर e Shram Card के लिए ऑनलाइन आवेदन स्वीकार किए जा रहे हैं. वास्तव में सरकार के उद्देश्य भारत के विभिन्न राज्यों तथा हर कोने में रहने वाले लेबर, श्रमिक, असंगठित कार्य में संलग्न व्यक्ति इत्यादि का डाटा इकट्ठा करना है. इसका प्रयोग करके भविष्य में श्रमिकों के कल्याण के लिए बनाई जाने वाली योजनाओं में सरकार के लिए लाभ होगा.

सरकार देख पाएगी कि किस क्षेत्र के श्रमिकों को किस प्रकार की योजना की आवश्यकता है, इसके साथ ही समय-समय पर विशेष प्रकार के श्रमिकों के लिए अलग-अलग योजनाएं बनाई जाएंगी जिनका लाभ उन्हें e Shram card के माध्यम से प्रदान किया जाएगा. सरकार द्वारा बनाए जा रहे E श्रम कार्ड में सभी प्रकार के असंगठित क्षेत्रों में कार्य करने वाले व्यक्ति आवेदन कर सकते हैं. सरकार द्वारा जारी की गई लिस्ट में अभी हाल ही में ई-कॉमर्स क्षेत्र में कार्य करने वाले व्यक्तियों को भी शामिल किया गया है. इसलिए इसका दायरा विस्तृत है.

Labour Card और E Shram Card के क्या लाभ(Benefits) हैं?

यद्यपि जानना चाहते हैं कि लेबर कार्ड और e श्रम कार्ड बनाने के क्या लाभ होंगे, तो आप बिल्कुल सही जगह पर हैं. हम आपको बताएंगे कि किस प्रकार केंद्र व राज्य सरकार दोनों ही अपनी योजनाओं के माध्यम से श्रमिकों को लाभ पहुंचा रही है.

Benefits of Labour Card

राज्य स्तर पर बनाए जा रहे लेबर कार्ड के अंतर्गत श्रमिकों को विभिन्न प्रकार के लाभ प्राप्त होंगे इनकी सूची इस प्रकार है

  • सभी पंजीकृत श्रमिकों को राज्यों द्वारा आवश्यकता पड़ने पर अनुदान दिया जाएगा। जो उनके बैंक खाते में पहुंचेगा. ( हाल ही में कोरोना काउंट के दौरान विभिन्न राज्य सरकारों ने अपने राज्य के श्रमिकों के खाते में कुछ आर्थिक सहायता ऑनलाइन ट्रांसफर करी थी)
  • श्रमिकों को उनके कार्यस्थल पर दी जाने वाली स्वास्थ्य संबंधी सुविधाएं भी प्राप्त होंगी
  • श्रमिकों को विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं में भाग लेने के लिए आमंत्रित किया जा रहा, महाराष्ट्र सरकार द्वारा लेबर कार्ड धारक श्रमिकों के बच्चों को पढ़ने के लिए स्कॉलरशिप प्रदान की जाती है, लड़कियों की शादी पर सरकार द्वारा अनुदान दिया जाता है, इसी प्रकार अन्य राज्य सरकारें भी अपने स्तर पर मजदूरों को लाभ पहुंचा रही हैं.
  • यदि किसी कारणवश कोई श्रमिक अपने कार्यस्थल पर क्षतिग्रस्त हो जाए, तो सरकार द्वारा उसको मेडिकल सुविधाएं प्रदान की जाती हैं, साथ ही बीमा की भी सुविधा प्रदान की जाती है.

Pashu Kisan Credit Card Scheme गाय है तो रु40000 भैस है तो रु60000 मिलेंगे, ऑनलाइन आवेदन?

All India Scholarship 2022 : सभी छात्रो को मिलेगी 75000 रुपए तक की छात्रवृत्ति, ऐसे करें आवेदन

खुशी से झूमेंगे केंद्रीय कर्मचारी ! 8th Pay Commission में सैलरी हाइक [44%]

18 Months DA Arrear [4320+3240+4320 रु] , एकमुश्त होगा भुगतान, जानिए कब आएगा पैसा?

DA Hike: DA बढ़ोतरी नोटिफिकेशन जारी- 4 फीसद DA से 15,000 तक बढ़ेगी Salary

Benefits of E shram Card

  • केंद्र सरकार द्वारा e श्रम कार्ड के अंदर ऑनलाइन आवेदन करने के पश्चात सभी श्रमिकों को तुरंत ₹200000 की जीवन बीमा योजना का लाभ प्राप्त हो जाता है.
  • सरकार द्वारा नागरिकों के रोजगार के लिए समय-समय पर मेले आयोजित किए जाते हैं, युवाओं को आमंत्रित किया जाता है, जो श्रम कार्ड के अंदर रजिस्टर्ड हैं.
  • सरकार द्वारा यह ऐलान किया गया है कि भविष्य में ऐसे श्रमिकों तथा मजदूरों को लाभ होगा जो पहले से ही e shram कार्ड के अंदर रजिस्टर्ड हैं.
  • सरकार द्वारा आने वाली योजनाओं में इ श्रम कार्ड के आंकड़ों के अनुसार ही क्रियान्वयन किया जाएगा.

क्या हम E shram Card और Labour Card दोनों में आवेदन कर सकते हैं?

अधिकतर लोगों को यह डर होता है कि यदि वे लेबर कार्ड में आवेदन करते हैं ऐसी स्थिति में उनका E shram card रद्द कर दिया जाएगा, लेकिन ऐसा नहीं है. श्रमिक केंद्रीय स्तर पर योजनाओं का लाभ उठाने के लिए E shram card मैं आवेदन कर सकते हैं और इसके साथ ही अपने राज्य में विभिन्न समय पर नई-नई योजनाओं का लाभ प्राप्त करने के लिए Labour Card बनवा सकते हैं. आप दोनों ही प्रकार से लाभान्वित होंगे.

Leave a comment