NTA स्पष्टीकरण: JEE-Mains में टॉप-20 पर्सेन्टाइल वाले छात्र ले सकेंगे एडमिशन

शिक्षा मंत्रालय, भारत सरकार द्वारा JEE Exam की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए खुशखबरी दी गई है. ऐसे सभी छात्र जो JEE mains exam 2023 में बैठना चाहते हैं उनके ऑनलाइन आवेदन स्वीकार हो चुके हैं. ऐसे में शिक्षा मंत्रालय द्वारा JEE  की eligibility के संबंध में नई घोषणा करी गई है. अब ऐसे छात्र जिनके कक्षा 12 में 75% अंक नहीं आए थे वह भी इस परीक्षा में बैठ सकते हैं.

मंत्रालय द्वारा करी गई एक बड़ी घोषणा है. JEE की तैयारी करने वाले छात्रों को यह पता है कि इस परीक्षा में बैठने के लिए कक्षा 12 में 75% से अधिक अंक आने जरूरी है. इसीलिए इस पात्रता को कम करने के लिए छात्रों द्वारा लगातार शिक्षा मंत्रालय से मांग करी जा रहे थे. मंत्रालय द्वारा अब छात्रों के लिए 75% अंक की पात्रता को खत्म कर दिया गया है. लेकिन यह छूट सभी छात्रों को नहीं दी गई है. जानिए किस किसको मिलेगा इस छूट का लाभ.

JEE-Mains

JEE परीक्षा में अब 75% से कम वाले भी आवेदन कर सकते हैं

केंद्रीय स्तर पर Class 12th Exam देने वाले बोर्ड जैसे CBSE तथा ICSE. इसके साथ ही राज्य स्तर पर कक्षा 12 की परीक्षा लेने वाले राज्य स्तरीय बोर्ड जैसे बिहार परीक्षा बोर्ड, राजस्थान बोर्ड, उत्तर प्रदेश बोर्ड आदि के ऐसे छात्र जिनके कक्षा 12 में 75% से कम अंक प्राप्त हुए हैं JEE exam 2023 दे सकते हैं. लेकिन इसके लिए यह शर्त है कि उन छात्रों द्वारा अपने बोर्ड के अंदर top 20 percentile प्राप्त करना जरूरी है. यानी ऐसे 20% छात्र जो अपने बोर्ड के टॉपर है उनके लिए 75% अंक प्राप्त करने की पात्रता रद्द कर दी गई है. 

इसे हम इस उदाहरण से समझ सकते हैं:  एक राज्य स्तरीय परीक्षा बोर्ड में यदि 100 बच्चों ने परीक्षाएं दी हैं तो उनमें से टॉप 20 बच्चों को JEE परीक्षा में बैठने की अनुमति मिल जाएगी. ऐसे छात्रों को 75% अंक प्राप्त करना भी जरूरी नहीं है. इस प्रकार यदि किसी बोर्ड में 1000000 बच्चों ने परीक्षाएं दी हैं तो टॉप 20% छात्रों को आवेदन करने की अनुमति मिल जाएगी.

जानें किन छात्रों को छूट नहीं है

अधिकतर राज्य स्तरीय बोर्ड में टॉप करने वाले छात्रों के अंक भी बहुत कम आते हैं. इस प्रकार यदि देखा जाए तो 500 अंक की परीक्षा में से यदि किसी विद्यार्थी के 350 अंक आए हैं तो उसने 75% अंक प्राप्त कर लिए. और वह अपने बोर्ड का टॉपर है. लेकिन इससे कम अंक प्राप्त करने वाले छात्रों को परीक्षा में बैठने की अनुमति नहीं थी क्योंकि उनके 75% से कम अंक थे. लेकिन शिक्षा मंत्रालय ने छात्रों के कम अंक आने का कारण बोर्ड की कठिन मार्किंग स्कीम को माना है.

यानी शिक्षा मंत्रालय का मानना है कि जिन परीक्षा बोर्ड ओं में छात्रों के अंक कमाते हैं उन परीक्षा बोर्ड की मार्किंग स्कीम बहुत जटिल होती है. इस प्रकार यदि किसी विशेष बोर्ड में परीक्षा देने वाले छात्र के 75% से कम अंक प्राप्त हुए हैं लेकिन वह टॉप 20% छात्रों में आता है तो उसके लिए 75% की पात्रता को रद्द कर दिया गया है.

JEE Main 2023 Registration (Start): अधिसूचना जारी @jeemain.nta.nic.in पर करें अप्लाई, जनवरी में JEE Main Exam

JEE Mains 2023 Postponed or Not: हटेगा 75% Marks Critiera?

JEE Main 2023 Latest Update- Exam Date & Registration Last Date

PM Yasasvi Post Matric Scholarship 2023: 9 से 11 वीं के छात्रो को 2 लाख की स्कॉलरशिप

MV Ganga Vilas Cruise: 50,000 हर रात का किराया, जानें ऐसा क्या है इस विश्व के सबसे बड़े रिवर क्रूज में

Fino Payment Bank CSP 2023 फिनो बीसी कैसे बने Merchant Registration

शिक्षा मंत्रालय ने दी है इसकी सूचना

छात्रों द्वारा लगातार कक्षा 12 में 75% अंक प्राप्त करने की पात्रता को रद्द करने की मांग की जा रही थी. शिक्षा मंत्रालय ने इस पर विचार किया. और इसे इस तरह से प्रस्तावित करा है कि केवल उन्हीं छात्रों को लाभ मिलेगा जिनके वास्तव में 75% से कम अंक प्राप्त हुए थे लेकिन वे प्रतिभावान छात्र हैं.  अब यह सभी छात्र भी JEE mains की परीक्षा पास करके अपनी पसंद के IIT, NIT के अंतर्गत एडमिशन ले सकते हैं और इंजीनियरिंग की डिग्री प्राप्त कर सकते हैं.

करोना काल में यह पात्रता समाप्त कर दी गई थी

पूरे विश्व भर में तबाही मचाने वाले कोरोनावायरस के कारण साल 2020, 2021 और 2022 में आयोजित होने वाली JEE की परीक्षाओं में छात्राओं के लिए कक्षा 12 में 75% अंक प्राप्त करने की पात्रता को रद्द कर दिया गया था. लेकिन स्थिति स्थिति फिर से सामान्य होने के कारण सन 2023 में आयोजित होने वाली परीक्षाओं में इस पात्रता को फिर से शुरू कर दिया गया है.

बता दें जनवरी 2023 में JEE mains की परीक्षाएं 24 जनवरी 2023 से 31 जनवरी 2023 तक आयोजित होंगी. इसमें देशभर के लाखों उम्मीदवार भाग लेंगे. यह परीक्षा कंप्यूटर पर CBT के माध्यम से आयोजित की जाएगी.  हालांकि छात्रों द्वारा इन परिस्थितियों को भी आगे बढ़ाने के लिए मांग की जा रही थी. लेकिन सरकार ने इस पर अपनी कोई प्रतिक्रिया नहीं दिखाई है. और परीक्षाएं अपने निर्धारित समय पर ही पूरी की जाएंगी.

JEE mains का 20 परसेंटाइल कोटा क्या है?

विभिन्न बोर्ड के टॉप 20 परसेंटाइल छात्रों को 75% अंक प्राप्त करने की आवश्यकता नहीं है. ऐसे छात्र कम अंक आने पर भी इस परीक्षा में बैठ सकते हैं.

JEE mains Exams 2023 कब आयोजित होंगी?

 यह परीक्षाएं जनवरी 2023 में 24 जनवरी से 31 जनवरी के बीच आयोजित हो रही है.

NIT Meghalaya

Leave a comment