How to Improve CIBIL Score? अपना CIBIL Score ठीक करें

How to Improve CIBIL Score: आज के डिजिटल दौर में Loan लेना बहुत आसान हो गया है. आप मोबाइल के माध्यम से लोन ले सकते हैं. घर बैठे लोन ले सकते हैं. बैंक भी आपको लोन देने की सुविधा प्रदान करता है. लेकिन कई बार हमें लोन हमारी आवश्यकताओं के अनुसार नहीं मिल पाता. अक्सर कंपनियां अपनी मनमानी शर्तें थोप कर लोन देती हैं. क्या आप भी इस तरह की शर्तों से बचना चाहते हैं. इसके लिए आपको कुछ प्रबंधन करने होंगे.

हम आपको यहां कुछ ऐसी विधियां बता रहे हैं जिनका प्रयोग करके आप अपना credit cibil score अच्छा कर सकते हैं. बैंक हमेशा अच्छे सिविल स्कोर वाले ग्राहकों को उनकी आवश्यकता के अनुसार लोन देती है. इसके साथ ही आपको ब्याज दर भी अधिक चुकाना नहीं पड़ता. इसलिए आप बताई गई इन विधियों को जरूर अपनाई जिससे आपका क्रेडिट स्कोर अच्छा (how to improve cibil score immediately) हो सके.

How to Improve CIBIL Score

Credit Score किसे कहते हैं

Credit Score/Cibil Score अच्छा करने की विधि से पहले हम पहले ही समझते हैं कि क्रेडिट स्कोर होता क्या है?  दरअसल Credit Cibil Score 13 अंकों का उसको होता है जो ग्राहकों को बैंक उनके द्वारा की जाने वाली गतिविधियों के अनुसार जाती है. यह इसको 300 से 900 के बीच होता है. इसको जितना ज्यादा अच्छा होता है बैंक आपको उतना ही ज्यादा विश्वसनीय मानती है.

Credit Cibil Score कम या ज्यादा आपके द्वारा लोन चुकाने में की गई देरी या जल्दी के अनुसार से किया जाता है. यदि आपका Cibil Score अच्छा होगा तो बैंक आपको तुरंत आपका मनचाहा लोन दे देंगे. इसके अतिरिक्त खराब सिविल स्कोर वाले ग्राहकों को कई बार अधिक ब्याज दरों पर भी लोन दे दिया जाता है. इसलिए अपना सिबिल स्कोर अच्छा करने के लिए आप निम्नलिखित विधियां फॉलो करें . आइये जानें “How to Improve CIBIL Score?

समय पर किस्त जमा करें

लोन लेते समय आप उसे चुकाने के लिए जो भी किससे निर्धारित करते हैं. उनके अनुसार ही भुगतान करें. समय पूरा हो जाने के पश्चात विलंब से भुगतान करने के कारण बैंक आपके cibil score को खराब कर देते हैं. आपको बता दें कि आपका यह CIBIL Credit Score सभी बैंकों को दिखाई देता है. इस प्रकार आप किसी दूसरी बैंक से लोन लेते समय खराब सिबिल स्कोर के कारण कठिनाई का सामना कर सकते हैं.

अनावश्यक लोन ना लें

रोजमर्रा की जिंदगी में हमें पैसों की जरूरत पड़ती है. कई बार अचानक पैसों की जरूरत पड़ने के कारण हमें लोन लेना पड़ जाता है. जबकि कुछ लोग आवश्यकता से अधिक खर्च करने के कारण भी लोन ले लेते हैं. इसलिए उन्हें चुकाने में कठिनाई का सामना करना पड़ता है. यदि आपको बहुत ही आवश्यक है तभी आप लोन लीजिए. अन्यथा आप अपनी बचत का इस्तेमाल करके भी अपना काम पूरा कर सकते हैं. जगहजगह से लोन लेने पर भी आपके सिबिल स्कोर असर पड़ता है.

यदि आपने एक बैंक से लोन ले रखा है. और किसी दूसरी बैंक से लोन लेने जा रहे हैं. तो आपको बता दें कि दूसरी बैंक के पास आपके पुराने सभी लोन की जानकारी मौजूद होती है. इंटरनेट पर आप की जानकारियां लिखने के पश्चात आपका पूरा खाता खुल कर सामने आ जाता है. इससे आपके सिबिल स्कोर पर खराब और नकारात्मक असर होता है.

Urgent Low Cibil Loan Apply: अचानक पैसों की जरूरत पड़ने पर घर बैठे लें Urgent Loan

No CIBIL Loan: घर बैठे 70,000 से 1 लाख़ तक लोन पाएं वो भी बिना किसी CIBIL Score के

ग्राहक का क्रेडिट बैलेंस

how to improve credit score in India: कोई ग्राहक अपने क्रेडिट कार्ड का किस तरह इस्तेमाल कर रहा है. इससे भी आपका cibil score प्रभावित होगा. आपको अपने क्रेडिट सीमा का उल्लंघन नहीं करना चाहिए. क्रेडिट सीमा का उल्लंघन करने पर बैंक द्वारा आप को नोटिस किया जाता है. यदि आप बार-बार यही क्रियाकलाप दोहराएंगे तो कर्मचारी आपके सिबिल स्कोर नकारात्मक राइटिंग दे देंगे. इसलिए आप इससे भी बचकर रहें.

पेमेंट को शार्ट करके ना अदा करें

improve and increase your CIBIL Score: आप लोन की पेमेंट अपने किस्त के अनुसार दे सकते हैं. लेकिन बैंकों द्वारा और नई क्रेडिट कंपनियों द्वारा इस प्रकार का लोन दिया जा रहा है जिसमें आप अपने लोन की राशि को बहुत छोटे-छोटे भागों में बांटकर अदा कर सकते हैं. इससे आपको लोन चुकाने में आसानी होगी. हालांकि आपका ब्याज दर पहले से ज्यादा बढ़ जाएगा. लेकिन अंततः बैंकों द्वारा इसे विलंबता से भुगतान करना माना जाता है. इसी लिए भुगतान में विलंब होने का कारण देकर कंपनियां ग्राहकों का सिबिल स्कोर खराब कर देती हैं. इससे केवल आपको घाटा होता है और किसी को नहीं होता. आपको अगली बार लोन लेने में समस्या आती है

 इस प्रकार ऊपर बताए गए उपायों को अपनाकर आप अपना सिबिल स्कोर मेंटेन कर सकते हैं. आज के दौर में cibil score maintain करना काफी आवश्यक है. क्योंकि इससे ही बैंक आपको लोन देंगे. 

बैंक लोन किस प्रकार देता है?

बैंक द्वारा आपका सिबिल स्कोर चेक करके आपको लोन दिया जाता है. सिबिल स्कोर अच्छा होगा तो लोन लेने में आसानी होगी.

सिबिल स्कोर क्या होता है?

जब आप बैंक के साथ क्रियाकलाप करते हैं और अपना लोन समय पर चुकाते हैं या लोन चुकाने में देरी कर देते हैं. इन सब का रिकॉर्ड बैंक अपने पास रखता है. इसके पश्चात बैंक द्वारा आपके सिविल इसकोर को रेटिंग दी जाती है. यदि आप समय पर लोन नहीं चुका पाते तो आपके रेटिंग कम कर दी जाती है. इससे आपको दूसरी जगह से लोन लेने में भी समस्या आती है. 

NIT Meghalaya

Leave a comment