एक बार फिर बढ़ा फ्री राशन, दिसंबर 2023 तक मिलेगा मुफ्त राशन

नमस्कार प्रिय पाठकों, आज की इस आर्टिकल में हम आपके लिए लाए हैं केंद्र सरकार द्वारा चलाई गई Free Ration Scheme से संबंधित नई अपडेट। दोस्तों वर्ष 2020 में केंद्र सरकार द्वारा कोरोना कारणों के चलते देश में राष्ट्रीय स्तर पर लोक डाउन की घोषणा की गई थी। जिसके कारण जनता को घरों में रहने की हिदायत दी गई थी एवं केवल और केवल मुख्य एवं आवश्यक कामों के लिए ही घर से बाहर निकलने की इजाजत दी गई थी। इस कारण गरीब एवं मध्यम वर्गीय परिवारों के सामने रोजगार एवं खाद्यान्न की समस्या उत्पन्न होने की आशंका थी।

इसीको देखते हुए केंद्र की मोदी सरकार द्वारा लोगों में खाद्यान्न की पूर्ति करने के लिए Free Ration Yojana की शुरुआत की गई। इस योजना के तहत प्रत्येक राशन कार्ड धारक को राज्य सरकार द्वारा प्राप्त खाद्यान्न के साथ-साथ केंद्र सरकार द्वारा भी Free Mein Ration प्रदान किया गया था। यह योजना 1 साल के लिए चलाई गई थी परंतु 2021 में कोरोना की दूसरी लहर को देखते हुए इस योजना को 1 साल के लिए और बढ़ा दिया गया था।

free ration

इस योजना को 2022 दिसंबर माह में समाप्त हो गई थी परंतु नववर्ष के मौके पर केंद्र सरकार द्वारा इसे पुनः 1 वर्ष के लिए जारी रखने की घोषणा कर दी गई है। आज हम आपको बताएंगे कि केंद्र सरकार द्वारा खाद्यान्न योजना पर क्या नया अपडेट है? इससे गरीबों को क्या लाभ होगा? New Ration Card Apply Online कैसे किया जा सकता है? Ration Card के लिए आवश्यक दस्तावेज क्या है? आदि जानकारी प्रदान करेंगे। ऐसी ही महत्वपूर्ण एवं आवश्यक जानकारी के लिए इस आर्टिकल को अंत तक जरूर पढ़ें।

गरीब कल्याण योजना कब तक है?

केंद्र सरकार द्वारा कोरोना कारणों के चलते साल 2022 में PM Garib Kalyan Anna Yojana की शुरुआत की गई थी। इस योजना को वर्ष 2022 में पुनः जारी रखने की घोषणा की गई थी। इसकी योजना की अंतिम तारीख दिसंबर माह 2022 तक थी परंतु केंद्रीय खाद्यान्न मंत्री पीयूष गोयल द्वारा जनवरी माह में मंत्रिमंडल की बैठक में इस योजना को 1 साल तक जारी रखने का फैसला लिया गया है। केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत मुफ्त खाद्यान्न वितरण करने का शुक्रवार को फैसला लिया है।

इस योजना के तहत भारत के कुल 81.35 करोड़ गरीबों को 1 साल तक के लिए केंद्र सरकार द्वारा मुफ्त खाद्यान्न प्रदान किया जाएगा। आपको बता दें कि खाद्यान्न सुरक्षा की गारंटी देने वाले NFSA कानून के तहत केंद्र सरकार की ओर से प्रत्येक पात्र व्यक्ति को हर महीने 5 किलो खाद्यान्न प्रदान किया जाएगा। जिसमें 4 किलो गेहूं एवं 1 किलो चावल 2/3 रुपए की दर से प्रदान किया जाएगा।

इस योजना से अलग प्रत्येक राज्य द्वारा गरीब परिवारों को खाद्यान्न वितरण किया गया था परंतु केंद्र सरकार कि खाद्यान्न वितरण योजना राज्य सरकार से अलग होने के कारण प्रत्येक पात्र नागरिक को राज्य सरकार द्वारा एवं केंद्र सरकार द्वारा राशन प्रदान किया गया। अर्थात प्रत्येक व्यक्ति को 10 किलो राशन प्रदान किया गया था। केंद्र सरकार खाद्यान्न वितरण योजना (Central Government Food Distribution Scheme) के तहत भारत के 81 करोड़ से अधिक लाभार्थियों को Muft Ration प्रदान किया जाएगा। इस योजना के तहत दिए जाने वाला राशन NFSA के तहत मिलने वाले खाद्यान्न Free Ration Subsidy Yojana से अलग है। इस योजना के तहत केंद्र सरकार द्वारा 2 लाख करोड़ रुपए का बजट तैयार किया गया है।

All India Scholarship 2023: सभी छात्रो को मिलेगी 75000 रुपए तक की छात्रवृत्ति, ऐसे करें आवेदन

खुशी से झूमेंगे केंद्रीय कर्मचारी ! 8th Pay Commission में सैलरी हाइक [44%]

TATA Scholarship 2023-24: 6वीं से Graduation के छात्र करें आवेदन – मिलेगी 50,000 की छात्रवृति

UPSSSC PET Result 2023 : यूपी पीईटी का रिजल्ट घोषित, चेक करें स्कोर

बजट का पूरा गणित: एक रुपये कमाई में कितना खर्च – कितना कर्ज?

उद्देश्य 

  • केंद्र सरकार द्वारा खाद्यान्न वितरण योजना के तहत प्रत्येक पात्र व्यक्ति को 5 किलो राशन प्रदान किया जाएगा जिसमें 4 किलो गेहूं 1 किलो चावल शामिल हैं।
  • यह योजना राष्ट्रीय खाद्यान्न पॉलिसी से अलग है अर्थात आपको राज्य सरकारों द्वारा जो खाद्यान्नान प्रदान किया जाता है यह योजना उससे अलग है।
  • इस योजना के तहत आपको केंद्र सरकार द्वारा भी खाद्यान्न प्रदान किया जाएगा तथा राज्य सरकार द्वारा भी खाद्यान्न अंत प्रदान किया जाएगा।
  • Pradhan Mantri Garib Kalyan Yojana का मुख्य उद्देश्य गरीब एवं पिछड़े परिवारों के सामने खाद्यान्न संकट को कम करना है।
  • इस योजना का लाभ भारत के कुल 81 करोड़ से अधिक लोगों को प्राप्त होगा।
  • भारत के गरीब एवं पिछड़े परिवारों की आर्थिक स्थिति मजबूत होगी तथा खाद्यान्ना की समस्या में कमी आएगी।

दस्तावेज़ 

दोस्तों यदि आप भी केंद्र सरकार खाद्यान्न वितरण योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तथा राशन कार्ड बनवाना चाहते हैं तो आपको निम्नलिखित दस्तावेजों की आवश्यकता होगी

  • आवेदन कर्ता का आधार कार्ड
  • पैन कार्ड
  • बैंक की पासबुक की फोटो कॉपी
  • आय प्रमाण पत्र
  • गैस कनेक्शन डीटेल्स
  • जाति प्रमाण पत्र
  • मोबाइल नंबर
  • परिवार के सदस्यों के नाम एवं आधार कार्ड (जिनका नाम राशन कार्ड में सम्मिलित करना है।) आदि

प्रक्रिया 

यदि आप भी राशन कार्ड बनवाना चाहते हैं तथा केंद्र की खाद्यान वितरण योजना का लाभ उठाना चाहते हैं तो आप इसके लिए ऑनलाइन आवेदन कर सकते हैं। जिसकी प्रक्रिया निम्नलिखित बिंदुओं के द्वारा बताई गई है:

  • सबसे पहले आपको अपने राज्य के खाद्य आपूर्ति विभाग की ऑफिशल वेबसाइट पर जाना होगा।
  • वेबसाइट के होम पेज पर आपको लॉगइन एवं रजिस्टर्ड रजिस्ट्रेशन के 2 विकल्प दिखाई देंगे।
  • यदि आपने पहले रजिस्ट्रेशन कर रखा है तो आप सीधे pm garib kalyan yojana Login कर सकते हैं और यदि आपने पहले रजिस्ट्रेशन नहीं कर रखा है तो आपको pm garib kalyan yojana registration करना होगा।
  • रजिस्ट्रेशन करने के पश्चात आपको लॉगइन करना होगा।
  • पेज पर आपको नाम जोड़ने का एक विकल्प दिखाई देगा उस विकल्प के बटन को दबाएं।
  • अब आपके सामने एक फॉर्म खुल जाएगा। Pm Garib Kalyan Ann Yojana Form में पूछी गई सभी जानकारियों को ध्यान पूर्वक एवं सही-सही भरें।
  • फॉर्म भरने के पश्चात आपको सभी आवश्यक दस्तावेज जिसकी सूची ऊपर बताई गई है। उन्हें अपलोड करें।
  • इसके पश्चात नीचे दिए गए सबमिट के विकल्प का बटन दबाएं।
  • अब आपके सामने रेफरेंस नंबर आएगा आप इस रेफरेंस नंबर को लिखने एवं संभाल कर रख ले।
  • आपको बता दें कि रेफरेंस नंबर आप के भविष्य में राशन कार्ड स्टेटस चेक करने के लिए आवश्यक हैं इसके बिना आप राशन कार्ड स्टेटस पता नहीं लगा सकते।
NIT Meghalaya

Leave a comment