e-RUPI Digital Payment: e RUPI KYA HAI, कैसे काम करता है?

e RUPI Digital Payment: प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में 2 अगस्त 2021 को E Rupi योजना की घोषणा की गई. यह डिजिटल पेमेंट के लिए इस्तेमाल की जाने वाली रकम होगी जो बिल्कुल कैशलेस होगी. यानी ग्राहक बिना पैसे का इस्तेमाल किए E Rupi का प्रयोग करके वस्तुओं का आदान प्रदान कर पाएंगे. सरकार के अनुसार ही ये एक कैशलेस मुद्रा तो है ही साथ ही इसके प्रयोग के लिए ऑनलाइन माध्यम की आवश्यकता भी नहीं है. बल्कि यह तो एक प्रीपेड कूपन होता है जो सेंटर के द्वारा ग्राहकों को प्रदान किया जाता है.  इन कूपन का प्रयोग करके ग्राहक संबंधित सेंटर पर इनको Redeem कर सकते हैं. 

e RUPI KYA HAI

यह एक डिजिटल करेंसी (Digital Currency) है जो किऑनलाइन करेंसी से अलग है . अगर देखा जाए तो यह एक कूपन होता है जो कि प्रीपेड होता है. यानी कोई भी व्यक्ति पैसे देकर इस ओपन को खरीद सकता है. कितने रुपए में यह कूपन खरीदा गया है उतनी ही इस कूपन की वैल्यू होती है.

यह डायरेक्ट बेनिफिट ट्रांसफर DBT के तहत कार्य करती है . National Payments Corporation of India (NPCI) द्वारा इस E-rupee करेंसी का निर्माण किया गया है जो voucher based transaction को बढ़ावा देने के लिए बनाया गया है. इसको रिजर्व बैंक की ऑनलाइन करेंसी (Online Currency) के साथ कंपेयर ना करें यह ऑनलाइन करंसी नहीं है बल्कि एक कूपन (Coupon) है जिसको विशेष तरीकों से Redeem किया जा सकता है।

E Rupi किस प्रकार कार्य करता है

यह एक डिजिटल इलेक्ट्रॉनिक बाउचर (Digital Electronic Vorture) है जो ग्राहकों को उनके मोबाइल फोन में एसएमएस के थ्रू (SMS के Through) या QR code के जरिए प्राप्त होता है. उपभोक्ताओं को प्राप्त यह बहुचर एक डिजिटल करेंसी के तौर पर काम करता है जिसे आप किसी भी ऐसी स्थान पर जो इस डिजिटल करेंसी को एक्सेप्ट करते हैं इस्तेमाल कर सकते हैं. 

उदाहरण के लिए यदि सरकार द्वारा यह तय कर लिया जाए कि उसके कर्मचारियों को मिलने वाली मेडिकल सुविधाएं E Rupi के रूप में प्राप्त होंगी. ऐसी स्थिति में कर्मचारी के मोबाइल फोन में E Rupi Coupon SMS / QR के रूप में सरकार के द्वारा भेज दिया जाएगा. इस कोड को अस्पतालों में दिखाकर रिडीम किया जा सकता है. अस्पताल के कर्मचारी उस कोड को संबंधित बैंक के जरिए Redeem करके राशि प्राप्त कर सकते हैं.

E Rupi के लाभ(e-RUPI Benefits)

केंद्र सरकार की इस पहल से लाभ ना केवल ग्राहकों को होगा अपितु सेवा प्रदान करने वाले लोगों को भी इसका लाभ होगा हम नीचे ग्राहकों तथा सेवा देने वालों दोनों ही को इस प्रकार लाभ होगा इसकी व्याख्या कर रहे हैं.

 e-RUPI Digital Platform से ग्राहकों को होने वाला लाभ

  • यह एक डिजिटल पेमेंट (Digital Payment) का नया माध्यम है जिसके लिए ग्राहकों को बिना किसी इंटरनेट सेवा का उपभोग किए ही पेमेंट करने का अवसर प्राप्त हो जाएगा.
  • बिना किसी क्रेडिट कार्ड का प्रयोग किए या इंटरनेट बैंकिंग का प्रयोग किए ग्राहक इ प्रीपेड कूपन (Prepaid Coupon) का प्रयोग करके वस्तुओं का भुगतान कर सकते हैं.
  • E Rupi का प्रयोग करने के लिए उपयोगकर्ता के पास बैंक खाते का होना भी आवश्यक नहीं है.
  • इसका प्रयोग करके ऑनलाइन पेमेंट(Online Payment) करते समय जो धोखेबाजी तथा बेईमानी का सामना करना पड़ता था उससे ग्राहक तथा दुकानदार दोनों को ही छुटकारा मिलेगा.
  • इनका प्रयोग करते समय ग्राहक या उपयोग करने वाले व्यक्ति की कोई भी निजी जानकारी जैसे मोबाइल नंबर, बैंक खाते का नंबर, यूपीआई आईडी, आदि किसी दूसरे के पास शेयर नहीं होगी बल्कि यह तो एक कूपन है जो कागज की मुद्रा का बदल बन सकता है .
  • E Rupi Coupon लेने के लिए आपके पास कोई बड़ा स्मार्टफोन या महंगा मोबाइल होने की जरूरत नहीं है. बल्कि आप एक छोटा मोबाइल फोन भी इस काम के लिए प्रयोग में ला सकते हैं जिसमें केवल एसएमएस आ जाता है. एसएमएस के जरिए आपको आपका कूपन कोड(Coupon Code) प्राप्त हो जाएगा.

e-RUPI Digital Platform से सेवा दाताओं को होने वाला लाभ

सेवा दाताओं को इस प्रकार के कूपन लेने के लिए किसी ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन की जरूरत नहीं होती बल्कि ग्राहक द्वारा दिए गए कोर्ट को बैंक को दिखा कर आप संबंधित रकम हासिल क सकते हैं.

ऑनलाइन बैंकिंग के माध्यम से कभी-कभी इंटरनेट सेवाओं का सही संचार ना होने के कारण पेमेंट प्रोसेस में देरी हो जाया करती थी. लेकिन इस कोड का प्रयोग करने के लिए ऐसी किसी भी प्रकार की शर्त की आवश्यकता नहीं है.

सेवा प्रदान करने वाले व्यक्तियों द्वारा सीधा ही रकम उनके बैंक में ट्रांसफर की जाती है.  इसके लिए किसी दूसरी कंपनी को बीच में पैसे पहुंचाने के लिए नहीं चुना जाता. 

किन बैंकों के द्वारा E Rupi प्राप्त कर सकते हैं

केंद्र सरकार द्वारा जारी की गई इस करेंसी को बैंकों के द्वारा ही प्राप्त किया जा सकता है. फिलहाल इस योजना के तहत सरकार ने 11 बैंकों को रजिस्टर्ड किया है जो कि E Rupi को एक्सेप्ट भी करती हैं तथा E Rupi Code भी ग्राहकों को प्रदान करती हैं. इन बैंकों की सूची हम आपको नीचे दे रहे हैं. आप डायरेक्ट इन बैंक से कांटेक्ट करके डिजिटल मुद्रा प्राप्त कर सकते हैं. 

  1. Axis Bank
  2. Bank of Baroda
  3. Canara Bank
  4. HDFC Bank
  5. ICICI Bank
  6. Indian Bank
  7. IndusInd Bank
  8. Kotak Mahindra Bank
  9. Punjab National Bank
  10. State Bank of India
  11. Union Bank of India

इन बैंकों के अतिरिक्त कई ऐसी कंपनियां भी हैं जो ऑनलाइन ट्रांजैक्शन तो पहले से ही ग्राहकों को प्रदान कर रही थी अब उन्होंने E Rupi  को भी स्वीकार करना शुरू कर दिया है. ऐसी कंपनियों की सूची निम्नलिखित है.  ग्राहक अपना कूपन कोड इन कंपनियों को दिखा कर भी वस्तुओं का आदान प्रदान कर सकते हैं. 

  • Bharat Pe
  • BHIM Baroda Merchant Pay
  • Pine Labs
  • PNB Merchant Pay
  • YoNo SBI Merchant Pay

E Rupi कौन-कौन स्वीकार कर रहा है?

ग्राहकों के लिए सबसे बड़ी समस्या तथा सवाल यह आता है कि वह इलेक्ट्रॉनिक रूपी(Electronic Rupi) का प्रयोग कहां कर सकते हैं.  फिलहाल केंद्र सरकार द्वारा चलाई जा रही इस योजना के अंतर्गत कई संस्थाएं जुड़ रही हैं और बहुत सारी जुड़ना बाकी है. लगभग 16 सौ से ज्यादा अस्पतालों में E Rupi आधिकारिक रूप से स्वीकार की जा रही है. कोई भी व्यक्ति अस्पतालों में जाकर इलेक्ट्रॉनिक रूपी कूपन का प्रयोग कर सकता है. इके अतिरिक्त विशेषज्ञों का मानना है कि आने वाले कुछ सालों में इस स्कीम के तहत अन्य प्राइवेट तथा कारपोरेट सेक्टर में भी एक क्रांति आ सकती है. आपको भी सरकार द्वारा चलाई जा रही इस योजना में भाग लेना चाहिए तथा इलेक्ट्रॉनिक रूपी E Rupi का प्रयोग करना चाहिए. आप अपने साथियों को भी हमारा आर्टिकल शेयर कर सकते हैं जो अपने कार्य के लिए E Rupi  का प्रयोग करें. 

यह भी पढ़ें:

PM Kisan 12th Installment 4000: इन किसानों को 2000 की जगह मिलेंगे 4000, चेक करें

JEE NEET EXAM 2023 Date : JEE NEET परीक्षा इस महीने से होगी शुरू, छात्र ऐसे करें आवेदन

CM Kisan Beneficiary Status : मुख्यमंत्री किसान कल्याण योजना की दूसरी किस्त कब आएगी?

Home PageClick Here

Leave a comment