Diwali Bonus : इन कर्मचारियों को मिला दिवाली बोनस, खाते में आएंगे 22,500 रुपए

Diwali Bonus : जैसा कि आप सभी को पता है कि दिवाली का त्योहार काफी नजदीक आ रहा है। इस त्योहार के चलते कई सरकारी कर्मचारियों को सरकार की तरफ से शानदार उपहार मिलने वाला है। बृहन्मुम्बई इलेक्ट्रिक सप्लाई (BEST) के कर्मचारियों, शिक्षकों और स्वास्थ्य कर्मचारियों को महाराष्ट्र सरकार की तरफ से दिवाली गिफ्ट की घोषणा कर दी गई है।

Diwali Bonus – महाराष्ट्र सरकार दे रही इन कर्मचारियों को बोनस

आपको बता दें कि BEST के प्रत्येक कर्मचारी और नागरिक निकाय से जुड़े शिक्षकों के लिए 22,500 रुपए का दिवाली बोनस दिया जाएगा। इसके साथ स्वास्थ्य कर्मियों को बोनस के तौर पर एक महीने का बोनस दिया जायेगा। सरकार के इस तरह की घोषणा से सरकारी कर्मचारियों को काफी खुशी मिली है।

Diwali Bonus इन कर्मचारियों को मिला दिवाली बोनस, खाते में आएंगे इतने रुपए
इन कर्मचारियों को मिला दिवाली बोनस, खाते में आएंगे इतने रुपए

UP Ration Card List New (जारी) फ़टाफ़ट ऐसे करें लिस्ट डाउनलोड

SSP Scholarship Portal Apply Online, Registration & Login at ssp.karnataka.gov.in

National Scholarship 2022 : जल्द करें ऑनलाइन आवेदन, मिलेगी 50000 की स्कॉलरशिप

स्वास्थ्य कर्मियों को भी मिलेगा Diwali Bonus

महाराष्ट्र सरकार ने बताया कि कोरोना महामारी के दौरान कई नागरिकों को काफी मुसीबतों का सामना करना पड़ा। इस महामारी के दौरान मेडिकल स्टाफ ने कोरोना महामारी की स्थिति को नियंत्रित करने में कई अथक प्रयास किए। इसलिए महाराष्ट्र सरकार ने स्वास्थ्य कर्मियों को दिवाली बोनस (Diwali Bonus) देने का फैसला किया है। इससे इन कर्मचारियों के मन में एक खुशी की लहर दौड़ रही है।

मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने कही यह बात

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने महाराष्ट्र के कर्मचारियों के लिए दिवाली बोनस (Diwali Bonus) देने की घोषणा की है। एकनाथ शिंदे ने कहा कि मुंबईवासियों को मन लगाकर काम करना चाहिए। इंजीनियरों से लेकर सभी को यह सुनिश्चित करना चाहिए वे कड़ी मेहनत करें और नागरिकों की इच्छा के अनुसार शहर में उच्च गुणवत्ता वाली सड़कों को सुनिश्चित करें। महाराष्ट्र सरकार मुंबई नगर निगम के 93 हजार और BEST के 29 हजार कर्मचारियों समेत शिक्षकों और स्वास्थ्य कर्मियों को फायदा मिलेगा।

बीएमसी चुनावों में शिवसेना ने 84 सीटें जीतीं

शिवसेना लगभग 30 वर्षों से मुंबई नगर निकाय पर शासन कर रही है। 2017 के बीएमसी चुनावों में शिवसेना ने 84 सीटें जीतीं जो दो दशकों में 227 सदस्यीय निकाय में सबसे कम थी जबकि भाजपा ने अपने टैली में काफी सुधार किया और 82 सीटें हासिल कीं। वर्तमान में BMC एक प्रशासक द्वारा पांच साल के कार्यकाल के रूप में चलाया जाता है।

सीएम शिंदे ने इन लोगों के कार्यों की प्रशंसा की

सीएम शिंदे ने कोरोना वायरस महामारी के दौरान BMC कर्मचारियों द्वारा किए गए कार्यों की भी प्रशंसा की। डॉक्टरों, पैरामेडिक्स और अन्य कर्मचारियों ने मुंबई में कोविड-19 की स्थिति को नियंत्रण में रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई। विकास कार्यों पर खर्च होना चाहिए लेकिन साथ ही अच्छे प्रदर्शन करने वालों को भी प्रोत्साहित किया जाना चाहिए।

NIT Meghalaya HomepageClick Here

Leave a comment