Berojgari Bhatta Apply Online: बेरोजगारी भत्ता [2500 रुपए] पाने के लिए यहाँ से करें आवेदन

Berojgari Bhatta Apply Online: मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रदेश के शिक्षित बेरोजगारों को 1 अप्रैल 2023 से 2500 रुपये प्रतिमाह की दर से बेरोजगारी भत्ता देने की घोषणा की है. इस संबंध में कौशल विकास, तकनीकी शिक्षा एवं रोजगार विभाग द्वारा आदेश जारी कर स्वीकृति प्रदान कर दी गयी है। निदेशक रोजगार एवं प्रशिक्षण छत्तीसगढ़ रायपुर ने बताया कि बेरोजगारी भत्ता के लिए निर्धारित मानदण्ड एवं शर्तों के अनुसार बेरोजगारी भत्ता प्राप्त करने के लिए आवेदक को छत्तीसगढ़ का मूल निवासी होना अनिवार्य है।

Berojgari Bhatta Registration

बेरोजगारों को मिलेगा 2500 रुपए प्रतिमाह

शिक्षित बेरोजगारों की उम्र 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए। उसके पास मान्यता प्राप्त बोर्ड से न्यूनतम हायर सेकेंडरी (12वीं) पास होना चाहिए। वह जिला रोजगार एवं स्वरोजगार मार्गदर्शन केन्द्र में पंजीकृत होना चाहिए तथा आवेदन के वर्ष की पहली अप्रैल को उसका रोजगार पंजीयन कम से कम दो वर्ष से उच्चतर माध्यमिक या उससे ऊपर की योग्यता का होना चाहिए।

आवेदक के पास आय का कोई स्त्रोत नहीं होना चाहिए तथा आवेदक के परिवार की समस्त स्त्रोतों से वार्षिक आय 2 लाख 50 हजार रुपये से अधिक नहीं होनी चाहिए। परिवार का अर्थ है पति, पत्नी और आश्रित संतान तथा आश्रित माता-पिता।

Retirement Age Hike News 2023: खुशखबरी! रिटायरमेंट में 2 वर्ष की वृद्धि

अब बुढ़ापे की No Tension, मिलेगी हर महीने 18500 पेंशन- करें आवेदन

7th Pay Commission : सरकार का बड़ा फैसला- 8 क‍िस्‍तों में म‍िलेगा 18 महीने का DA Arrear

पात्र शिक्षित युवकों को सर्वप्रथम एक वर्ष तक बेरोजगारी भत्ता दिया जायेगा। यदि एक वर्ष की इस अवधि में व्यक्ति को लाभकारी रोजगार प्राप्त नहीं होता है, तो बेरोजगारी भत्ता की अवधि एक वर्ष और बढ़ाई जा सकती है। यह अवधि किसी भी स्थिति में दो वर्ष से अधिक नहीं होगी।

कौन आवेदक अपात्र होंगे

एक परिवार से केवल एक व्यक्ति को ही बेरोजगारी भत्ता दिया जायेगा। यदि एक परिवार में किसी एक व्यक्ति को बेरोजगारी भत्ता स्वीकृत किया गया है तो दूसरा व्यक्ति अपात्र होगा। ऐसा आवेदक बेरोजगारी भत्ता पाने के लिए अपात्र होगा यदि आवेदक के परिवार का कोई सदस्य चतुर्थ श्रेणी या ग्रुप डी के अलावा किसी केंद्र या राज्य सरकार के संगठन या स्थानीय निकाय में नौकरी करता है।

यदि आवेदक को स्वरोजगार या सरकारी या निजी क्षेत्र में किसी भी नौकरी की पेशकश की जाती है, लेकिन आवेदक इस प्रस्ताव को स्वीकार नहीं करता है, तो ऐसा आवेदक बेरोजगारी भत्ता पाने के लिए अपात्र होगा।

पूर्व और वर्तमान मंत्रियों, राज्य मंत्रियों और संसद या राज्य विधानसभाओं के पूर्व या वर्तमान सदस्यों, नगर निगमों के पूर्व और वर्तमान महापौरों और जिला पंचायतों के पूर्व और वर्तमान अध्यक्षों के परिवार के सदस्य बेरोजगारी भत्ता के लिए पात्र नहीं होंगे। 10,000/ रुपये या इससे अधिक मासिक पेंशन प्राप्त करने वाले पेंशनरों के परिवार के सदस्य बेरोजगारी भत्ते के लिए पात्र नहीं होंगे।

EPFO Higher Pension Calculation 2023: रिटायरमेंट के बाद 18,857 रुपये पेंशन, जानें कैसे

Pension News Update: पेंशन पाने वालों की मौज, मिलेगी 50 फीसदी ज्यादा पेंशन, जारी हुआ आदेश!

जिन परिवारों ने पिछले आकलन वर्ष में आयकर का भुगतान किया है, उनके परिवार के सदस्य बेरोजगारी भत्ते के लिए अपात्र होंगे। अन्य पेशेवर जैसे इंजीनियर, डॉक्टर, वकील, चार्टर्ड अकाउंटेंट और पेशेवर निकायों के साथ पंजीकृत आर्किटेक्ट के परिवार के सदस्य बेरोजगारी भत्ते के लिए पात्र नहीं होंगे।

कौशल विकास प्रशिक्षण

बेरोजगारी भत्ता की राशि पात्र लाभार्थी के बैंक खाते में प्रतिमाह स्थानांतरित की जायेगी। कौशल विकास प्रशिक्षण उन सभी लोगों को दिया जाएगा जिन्हें बेरोजगारी भत्ता दिया जाएगा। कौशल विकास प्रशिक्षण के बाद उन्हें रोजगार प्राप्त करने में मदद की जाएगी और यदि वे कौल विकास प्रशिक्षण में भाग लेने से इंकार करते हैं या प्रस्तावित रोजगार स्वीकार नहीं करते हैं तो उनका बेरोजगारी भत्ता बंद कर दिया जाएगा।

NIT MEGHALAYA HOMEPAGECLICK HERE

Leave a comment