Basic Salary kya hai ? Net Salary कैसे बनती है, Pay Scale Count करना सीखें

भारत की अधिकता जनसंख्या नौकरी पेशा है. जहां उन्हें monthly salary मिलती है. लेकिन इस सैलरी के अंदर basic salary के साथ ही कई दूसरी सुविधाएं जैसे house allowance, travel, महंगाई भत्ता इत्यादि सुविधाएं प्रदान की जाती है जिसे employee को basic pay से ज्यादा  मंथली सैलरी प्राप्त हो जाती है. लेकिन इसके साथ ही कई दूसरे कर और कठोतिया भी होती हैं जैसे FP, TAX. और दूसरी कठोतिया भी हो जाती हैं जिससे उनको महीने में मिलने वाली तनख्वाह में फिर से कमी आ जाती है.

आज हम आपकी इसी दुविधा को सुलझाने का प्रयास करेंगे. आज हम चर्चा करेंगे कि Basic Salary क्या होती है, और महीने के अंत में  जो हमें Net Salary प्राप्त होती है वह किस प्रकार बनती है. इसके साथ ही हम बताएंगे कि Basic Salary में Gross Salary की क्या भूमिका होती है. इस प्रकार आप हमारे आर्टिकल पर अंतर्गत बने रहें जिससे आपकी  बेसिक सैलरी संबंधित दुविधा दूर हो जाएगी.

किसी भी व्यवसाय में कार्य करने से पहले कर्मचारी और काम देने वाले नियुक्त दोनों के मध्य एक समझौता तय किया जाता है जिसमें कर्मचारी को महीने के अंत में मिलने वाली basic salary के विषय में चर्चा की जाती है. यह वह सैलरी होती है जो किसी भी कर्मचारी को पूरे महीने काम करने के बाद महीने के अंत में नियोक्ता द्वारा या कंपनी द्वारा प्रधान करी जाती है. यह एक फिक्स सैलरी होती है जिसमें कोई कटौती नहीं की जा सकती. हां यदि कर्मचारी के कार्य से कंपनी संतुष्ट है और वह अच्छा कार्य करता है

ऐसी स्थिति में कंपनी उसकी सैलरी में कई प्रकार के bonus जोड़ देती है जिससे उसको अपनी सैलरी से अधिक प्राप्त होता है. लेकिन बेसिक सैलरी से कम सैलरी किसी भी स्थिति में प्राप्त नहीं हो सकती. यह सैलरी का वह भाग होता है जिसमें ना तो किसी प्रकार का बोनस शामिल किया जाता है ना ही किसी प्रकार की सुविधा से संबंधित कटौती की जाती है. यानी कंपनी द्वारा अपने कर्मचारियों को बेसिक सैलेरी अदा करने के बाद उससे संबंधित बोनस  को उसमें जोड़ती है और इसके बाद संबंधित सेवा कर को काटकर कर्मचारी को सैलरी प्रदान करती है.

Gross Salary 

 महीने के अंत में कर्मचारियों की तनख्वाह का बिल तैयार करते समय सबसे पहले उनकी बेसिक सैलरी लिखी जाती है इसके बाद उनके कार्य की कुशलता को देखते हुए कंपनी bonus देती है. इसके साथ ही कंपनी द्वारा  कर्मचारियों को travel, home allowance जैसी सुविधाएं भी प्रदान की जाती हैं. बहुत सारी कंपनियां महंगाई भत्ता भी अपने कर्मचारियों को बेसिक सैलरी से अधिक प्रदान करती हैं. इसके साथ ही मेडिकल फैसिलिटी के लिए भी कुछ रकम दी जाती है इस प्रकार के जितने भी लाभ कर्मचारियों को कंपनी द्वारा प्रदान किए जाते हैं उनको बेसिक सैलरी के साथ जोड़ दिया जाता है.

इस प्रकार बेसिक सैलेरी + अतिरिक्त सभी लाभग्रॉस सैलेरी.

उपरोक्त फार्मूले को हम ग्रॉस सैलेरी तैयार करने का फॉर्मूला क्या सकते हैं. हालांकि इसके बाद भी कर्मचारियों को जो सैलरी प्राप्त होती है, वह ग्रॉस सैलरी नहीं होती. वास्तव में उसे Net Salary कहा जाता है.  आइए बात करते हैं आप Net Salary के बारे में जो कर्मचारियों को अंतिम रूप से प्राप्त होती है.

8th Pay Commission : अगले वेतन आयोग पर आया बड़ा फैसला, कर्मचारियों को ऐसे मिलेगा वेतन

UGC NET Result Cut off, Merit List 2022 Direct Link @ugcnet.nta.nic.in

Pension Portal: केंद्र सरकार ने पेंशनर्स के लिए खोला ये पोर्टल, जानें इसके फायदे

CSIR UGC NET Result 2022 : ऐसे करें चेक

Net Salary

सैलरी का बिल तैयार करते समय बेसिक सैलरी और सभी सुविधाओं को जोड़ने के बाद तैयार की गई ग्रॉस सैलेरी को बाद में नेट सैलेरी में बदलने के लिए सभी प्रकार के टैक्स जो भी कर्मचारी के पे स्केल से संबंधित हैं, काट लिए जाते हैं. जिस भी कर्मचारी को बेसिक सैलरी के अंतर्गत तनख्वाह प्राप्त होती है उसे सरकार को एक रकम टैक्स के तौर पर अदा करनी होती है जो कि ग्रॉस सैलरी में से काटी जाती है, इसके बाद रिटायरमेंट के पश्चात जीवन व्यतीत करने के लिए कर्मचारी PF FUND के लिए प्रत्येक वर्ष कुछ पैसा अदा करते हैं जिसकी कटौती कंपनी द्वारा कर दी जाती है,

कर्मचारियों के ग्रॉस सैलरी में से प्रोफेशनल फंड भी काटा जाता है. इस प्रकार और जितने भी अधिक कर यह कटु अखियां होती हैं उन्हें कंपनी द्वारा निकाल लिया जाता है और संबंधित विभाग में भेज दिया जाता है. इस प्रकार सैलरी का जो भाग बचता है उसे नेट सैलेरी कहा जाता है. आसानी से समझने के लिए हम निम्नलिखित फार्मूले का प्रयोग कर सकते हैं

नेट सैलेरी ग्रॉस सैलेरी –  सभी प्रकार की कटौती

हमें उम्मीद है कि हम आपको बेसिक सैलरी से संबंधित सही जानकारी प्रदान कर पाए हैं और आपकी दुविधा को सुविधा पाए हैं. यदि फिर भी आपको अपनी Basic salary count करने में किसी भी प्रकार की समस्या आ रही है. तो आप अपनी समस्या को कमेंट के माध्यम से साझा कर सकते हैं, जहां हमारी टीम द्वारा आपकी समस्या का निदान करने के लिए कमेंट कर दिया जाएगा.

Leave a comment