7th Pay Commission: दो या तीन बच्चों वाले कर्मचारियों की सैलरी बढ़ेगी- आदेश जारी

सिक्किम में जातीय समुदायों की आबादी को बढ़ावा देने के उद्देश्य से, राज्य सरकार ने दो या तीन बच्चों वाले अपने कर्मचारियों को इस साल 1 जनवरी से अग्रिम और अतिरिक्त वेतन वृद्धि देने का निर्णय लिया है। एक नोटिफिकेशन के जरिए यह जानकारी दी गई।

कार्मिक विभाग के सचिव रिनजिंग चेवांग भूटिया ने 10 मई को जारी एक अधिसूचना में कहा कि सिक्किम विषय प्रमाण पत्र/पहचान प्रमाण पत्र रखने वाले राज्य सरकार के कर्मचारी जिनके दो बच्चे हैं, उन्हें अग्रिम वेतनवृद्धि (advance increment) दी जाएगी।

Advance Increment to Employees Having Two or Three Children

जिन लोगों के तीन बच्चे हैं उन्हें अतिरिक्त वेतन वृद्धि मिलेगी

भूटिया ने कहा कि जिन कर्मचारियों के तीन बच्चे हैं, उन्हें अतिरिक्त वेतन वृद्धि मिलेगी. उन्होंने कहा कि आपसी समझ के तहत पति-पत्नी में से कोई भी अग्रिम वेतन वृद्धि का दावा कर सकता है।

उन्होंने आगे कहा कि यह योजना 1 जनवरी 2023 से प्रभावी होगी और जिन कर्मचारियों के दूसरे या तीसरे बच्चे का जन्म 1 जनवरी 2023 के बाद हुआ है वे भी इस योजना के पात्र होंगे. कार्मिक विभाग के सचिव ने बताया कि गोद लेने की स्थिति में योजना का लाभ लागू नहीं होगा।

कम आबादी एक गंभीर चिंता

सिक्किम के मुख्यमंत्री प्रेम सिंह तमांग द्वारा राज्य में स्थानीय जातीय मूल के लोगों के बीच कम प्रजनन दर को दूर करने के लिए योजनाओं का वादा करने के लगभग चार महीने बाद राज्य सरकार के कर्मचारियों को वित्तीय प्रोत्साहन प्रदान करने की योजना शुरू हुई है।

तमांग ने इस साल जनवरी में गंगटोक में एक कार्यक्रम में कहा था, “सिक्किम में स्थानीय जातीय मूल की आबादी के बीच कम प्रजनन दर गंभीर चिंता का विषय। हमें इस प्रक्रिया को उलटने के लिए हर संभव प्रयास करना चाहिए।” सिक्किम भारत का सबसे कम आबादी वाला राज्य है जिसकी आबादी लगभग सात लाख है।

NIT Meghalaya

Leave a comment