सुकन्या समृद्धि योजना कैलकुलेटर बेटी के 21 साल का हो जाने पर दीजिए उसे ₹61,00,000 का उपहार

जैसा कि हम सब जानते हैं सुकन्या समृद्धि योजना एक छोटी बचत योजना है जो भारत सरकार द्वारा संचालित की जा रही है ।यह बचत योजना बेटियों के भविष्य को सुरक्षित करने के लिए शुरू की गई है । भारत में यह सबसे अधिक मांग वाली योजना है क्योंकि यह योजना पूरी तरह से टैक्स फ्री योजना मानी जाती है। साथ ही साथ इस योजना के अंतर्गत 8 प्रतिशत का ब्याज भी उपलब्ध कराया जाता है। इस योजना में निवेश करने के लिए निवेशक न्यूनतम ₹250 और अधिकतम ₹1.50लाख का निवेश कर सकता है ।

खाता खोलने की पात्रता

जैसा कि हमने आपको बताया यह योजना केवल बेटियों के लिए ही शुरू की गई है इसलिए इसमें बेटियों के नाम से ही निवेश किया जाएगा ।

बेटियों के भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए शुरू की गई इस योजना को पूरी तरह से आयकर अधिनियम के अंतर्गत ब्याज कर मुक्त माना गया है । अभिभावक 10 वर्ष के अंदर की आयु वाली बालिका के नाम पर यह खाता खोल सकता है। और 18 वर्ष की आयु प्राप्त करने के पश्चात बालिका इस खाते में से पैसे निकाल सकती है। बालिका चाहे तो इस खाते को वह 21 वर्ष तक ऑपरेट कर सकती है ।यह खाता 18 वर्ष की आयु में अपनी परिपक्वता पूरी करता है जिसे 21 वर्ष तक मान्य माना जाता है ।

सुकन्या समृद्धि योजना भारत सरकार की एक सार्थक पहल है जो बालिकाओं को सुरक्षित भविष्य उपलब्ध कराती है, जिससे बेटियों को सशक्तिकरण भी मिलता है और वह आत्मनिर्भर भी हो सकती है । यह योजना एक छोटी बचत योजना है जिसके अंतर्गत माता-पिता या अभिभावक बेटी के नाम पर खाता खोलकर उसमें कम से कम ₹250 की राशि जमा कर सकते हैं। इसके लिए अभिभावक किसी भी बैंक या डाकघर में खाता खोल सकते हैं । यदि आप सुकन्या समृद्धि योजना के अंतर्गत निवेश करना चाहते हैं और आप इसका निवेश कैलकुलेट करना चाहते हैं तो आज के इस लेख में हम आपको इसकी कैलकुलेशन को लेकर एक विवरण उपलब्ध कराने वाले हैं।

 कैलकुलेशन में आपको तीन आवश्यक विवरण दर्ज करने होंगे

 जमा राशि :  जमा राशि वह राशि होती है जो आप  सालाना  जमा करने की योजना बना रहे हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दे सुकन्या समृद्धि योजना में जमा राशि की अधिकतम सीमा 1.50लाख रुपये प्रति वर्ष है ।

बालिका की आयु : कैलकुलेशन के समय आपके लिए यह जरूरी है कि आप बालिका की वर्तमान आयु की जानकारी प्रदान करें। खाता खोलते समय बालिका की आयु 10 वर्ष से कम होनी चाहिए तभी बालिका का खाता खोला जा सकता है ।

निवेश का प्रारंभिक वर्ष :  कैलकुलेट करते समय आपको निवेश का प्रारंभिक वर्ष भी दर्ज करना होगा तब ही आप सुकन्या समृद्धि योजना की फाइनल कैलकुलेशन जान सकेंगे ।

केलकुलेटर में यह तीनों जरूरी जानकारियां भरने के पश्चात आप सुकन्या मृद्धि योजना के अंतर्गत परिपक्वता राशि और ब्याज देख सकते हैं । इस राशि की गणना के लिए डिजिटल केल्क्युलेटर गणितीय सूत्र का उपयोग करता है जहां आप आसानी से यह जान सकते हैं कि आप की कुल परिपक्व राशि कितनी होगी और उस पर कितना प्रतिशत ब्याज मिला होगा।

केलकुलेशन का उदाहरण

 उदाहरण के लिए मान लीजिए आप सुकन्या समृद्धि योजना के खाते में अपनी बेटी के नाम से 1.50 लाख रुपए प्रति वर्ष जमा करते हैं मान लीजिए आप ने यह खाता इसी साल खोला है जिस पर 7.6 % प्रतिशत की दर से ब्याज उपलब्ध कराया जा रहा है तो 21 साल के पश्चात पको लगभग 65,00,000 रुपये इस योजना की परिपक्व राशि के रूप में मिलते हैं । इस प्रकार सुकन्या समृद्धि योजना बेटियों के भविष्य को सुनिश्चित करने के लिए सबसे बेहतरीन योजना है । साथ ही साथ इस योजना के अंतर्गत ब्याज दर अन्य योजनाओं से काफी अधिक रखी गई है और जैसा कि हमने आपको बताया यह योजना पूरी तरह से कर मुक्त है इसीलिए निवेशक इस योजना को काफी पसंद कर रहे हैं।

Leave a comment